हे कृष्ण हे माधव🙏♨️

देख रहे है प्रभु संसार की हालत कोरोना कहर के बीच चीनी घुसपैठ,मौसम लगातार रंग दिखा रहा है। जगन्नाथ जी के झंडे में आग लगने। भारतीय तटवर्ती क्षेत्र में लगातार तीन समुद्री तूफान,कई भूकम्प के झटके। कई बार प्लेन रनवे से फिसल गया।

टिड्डी दल ने भारत में दस्तक दी जो किसानों के लिए दुःखद रहा। राजधानी में द्रोही CAA के खिलाफ धरना दिया परिणाम दिल्ली दंगे की साजिश आतंकवादियों ने अंजाम दिया।
फैक्ट्री में विस्फोट से लेकर,नक्सली हमले हुये,कश्मीर में आतंकवादियों को लगातार हूरों के पास पहुँचाने का क्रम जारी रहा है।
और हाँ वासुदेव कई रामद्रोही सड़ रहे है उन्हें सम्मानित मौत का इंतजार है।

हिंदुओं के लिए मुरारी!सबसे बड़ी प्रसन्नता लेकर कर आया अयोध्या में श्रीराममंदिर का शुभारंभ।
प्रभु अभी काशी का विश्वेश्वर मंदिर और स्वयं की जन्मभूमि पर म्लेच्छ कब्जा जमाएं है।
विधर्मी लगातार सत्ता सुख लेकर आज बहुत जोर का खिसिआया है। उसके बोल शत्रु देश जैसे है या कहे शत्रु जैसे और शत्रुओं के मनोबल बढ़ाने वाले है।

हे नारायण!भारत के अर्थशास्त्री ,अर्थव्यवस्था को लेकर इतना चिंतित है उसे विश्व की परिस्थिति नहीं दिख रही है जैसे सेकुलर इतिहासकारो को भारत के इतिहास में सनातन तत्व नहीं दिखाई दिया उसने झूठ के गुब्बारे को ही फुला दिया जो कभी भी फूटने वाला है।

जानते है केशव!धर्मद्रोहियों में इस समय बहुत छटपटाहट है कल तक जिसने श्रीराम को काल्पनिक कहता था अब वह राम सबके है कहता है। प्रभु सूर्पणखा,पूतना का संहार कब तक कलयुग में हो जायेगा क्योंकि इनकी तादाद में वृद्धि जारी है।

हे चक्रधारी!आपकी माया को समझना कभी आसान नहीं है। मूर्ख शिशुपाल,दुर्योधन और
कंस की तरह है जो जगतपति को सत्य न मानकर उसकी माया में लिपटा है। हे जनार्दन सबके बाद भी एक आस है कि आप सब सही कर देंगे।

हे द्वारकाधीश आप गीता में कहते जो होता है वह आपकी इच्छा मात्र से ,एक करनकरावन हार आप है इतने कालनेमि का क्या काम?

हे देवकीनंदन विनाश को आज विकास कहते है जिसमें तुम्हारे जीने से हम मरते है तुम मर जाओ।
जीव को जीभ का स्वाद बना रहे है। चमगादड़ को चीन ने ऐसा खाया कि पूरा विश्व उसका खामियाजा भुगत रहा है कोरोना नामक संक्रामक बीमारी इसी का एक रूप है।

हे कृष्ण!एक दिन वह समय आप लायेंगे जब विश्व सनातन झंडे के नीचे एकत्र होगा और आंनदित भी । धर्म से भटके लोगों के लिए यही सबसे बड़ा पश्चाताप होगा।

श्रीकृष्ण गोविंद हरे मुरारी 💥
हे नाथ नारायण वासुदेवाय🙏

One thought on “हे कृष्ण हे माधव🙏♨️

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s